भारत सरकार व न्यू डेवलपमेंट बैंक में 500 मिलियन USD का समझोता


 भारत सरकार व न्यू डेवलपमेंट बैंक में 19 नवंबर 2020 को 500 UDS मिलियन का ऋण समझोता हुआ।  इस समझोते के अनुसार New Development Bank भारत सरकार को दिल्ली - गाजियाबाद -मेरठ रीजनल रैपिड ट्राजिट सिस्टम के लिए ऋण देगा। जिसका उदेश्ये राजधानी दिल्ली में तेज, विश्वसनीय, सुरक्षित और आरामदायक सार्बजनिक परिवहन प्रणाली प्रदान करना है। 


रैपिड ट्रांजिट सिस्टम की जरूरत 

हर दिन लगभग 0 .67 मिलियन लोग दिल्ली-गाजियबाद-मेरठ कोरिडोर पर यात्रा करते है और उनमे से 63% लोग अपने बहनो का इस्तमाल करते है।  जिसकी बजह से काफी ट्रैफ़िक होता है।  तथा यातायात में भी अधिक समय लगता है।  और यह ट्रैफिक दिल्ली के वायु प्रदुषण को ओर भी बड़ा रही है। इसलिए  रैपिड ट्रांजिट सिस्टम की जरूरत है। 

न्यू डेवलपमेंट बैंक (New Development Bank )

न्यू डेवलपमेंट बैंक को BRICS  बैंक भी कहा जाता है। बैंक का मुख्यालय शंघाई, चीन में स्थित है। न्यू डेवलपमेंट बैंक की स्थापना का प्रस्ताव भारत द्वारा 2012 में नई दिल्ली में आयोजित चौथे ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में किया गया था। ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका में बैंक के 20% शेयर हैं। बैंक ऋण का 25% पानी और स्वच्छता परियोजनाओं के लिए, 24% परिवहन परियोजना के लिए, 30% ऊर्जा परियोजना के लिए प्रयोग किया जाता है। 

Previous Post
Next Post
Related Posts