ग्लोबल रिश्वत जोखिम रैंकिंग में भारत 77 पर, एक स्थान पर सुधार

 

India at 77 in global bribery risk rankings

19 नवंबर 2020 TRACE  द्वारा व्यापार रिश्वत जोखिम इंडेक्स जारी किया गया जिसमें भारत का  194 देशों में से, 45 स्कॉर के साथ 77वा स्थान  रहा। भारत का स्थान पिछले साल की तुलना में अच्छा रहा है। 


महत्वपूर्ण बिंदु -

  • TRACE  द्वारा सूची, एक एंटी-रिश्वत मानक सेटिंग संगठन, 194 देशों, क्षेत्रों और स्वायत्त और अर्ध-स्वायत्त क्षेत्रों में व्यापार रिश्वत जोखिम को मापता है।
  • इस वर्ष के आंकड़ों के अनुसार,सबसे अधिक वाणिज्यिक रिश्वत जोखिम पेश करने बाले देश  उत्तर कोरिया, तुर्कमेनिस्तान, दक्षिण सूडान, वेनेजुएला और इरिट्रिया रहे। 
  • जबकि डेनमार्क, नॉर्वे, फिनलैंड, स्वीडन और न्यूजीलैंड सबसे कम  वाणिज्यिक रिश्वत जोखिम पेश करते  हैं।
  • 2019 में, भारत का रैंक 48 के स्कोर के साथ 78 स्थान पर था, जबकि 2020 में देश 45 के स्कोर के साथ 77 वें स्थान पर था।
  • यह स्कोर चार कारकों पर आधारित किया जाता  है: 

  1. सरकार के साथ व्यावसायिक बातचीत, 
  2. एंटी-रिश्वतखोरी निवारक और प्रवर्तन,
  3.  सरकार और सिविल सेवा पारदर्शिता, 
  4. मीडिया की भूमिका सहित सिविल सोसाइटी ओवरसाइट के लिए क्षमता,

  • भारत ने अपने पड़ोसी देशों - पाकिस्तान, चीन, नेपाल और बांग्लादेश से बेहतर प्रदर्शन किया। इस बीच, भूटान ने 37 के स्कोर के साथ 48 वीं रैंक हासिल की।
  • भारत के अलावा, पेरू, जॉर्डन, उत्तरी मैसेडोनिया, कोलंबिया और मोंटेनेग्रो का भी मैट्रिक्स में स्कोर 45 है।


Previous Post
Next Post
Related Posts